शिक्षण कार्य के साथ छात्रों को शोध पर ध्यान देने की जरूरत-डॉ. अरोरा

-आधुनिक दंत चिकित्सा ज्ञान के आदान-प्रदान हेतु आईटीएस डेंटल कॉलेज का यूसीएएम से करार

-आधुनिक दंत चिकित्सा ज्ञान के आदान-प्रदान हेतु आईटीएस डेंटल कॉलेज का यूसीएएम से करार

ग्रेटर नोएडा,6 जुलाई। मरीजों का बेहतर इलाज केवल दंत चिकित्सा के पूर्व निर्धारित पाठ्यक्रम के ज्ञान से नही किया जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि देश दुनिया में दंत चिकित्सा के क्षेत्र में हो रहे नित नये तरीकों का सम्पूर्ण ज्ञान सभी विद्यार्थियों एवं चिकित्सकों को दिया जाए, जिससे वे मरीजों का बेहतर इलाज कर सकें। इसके लिए संस्थान ने यूनिवर्सिडेड कैटोलिका सैन एन्टोनियो डी मुरसिया(यूसीएएम), स्पेन(Universidad Católica San Antonio De Murcia (UCAM), Spain )से एकेडमिक एवं क्लीनिकल ज्ञान के आदान-प्रदान हेतु करार किया है। यह बातें डॉ. सचित आनंद अरोरा ने संस्थान के छात्रों और चिकित्सकों को संबोधित करते हुए बताई। डॉ. अरोरा ने बताया कि इस करार के अंतर्गत प्रत्येक वर्ष पठन-पाठन एवं दंत चिकित्सा के आधुनिक ईलाज की जानकारी आपस में साझा करने हेतु संस्थान के चिकित्सकों और छात्रों का एक समूह प्रत्येक वर्ष यूसीएएम, स्पेन जाएगा तथा यूसीएएम के शिक्षक एवं छात्रों का एक समूह आईटीएस डेंटल कॉलेज, ग्रेटर नोएडा आएगा, जिससे चिकित्सकों एवं छात्रों को काफी फायदा होगा। इस अवसर पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए आईटीएस द एजूकेशन ग्रुप के वाइस चेयरमैन सोहेल चड्ढा ने संस्थान के चिकित्सकों एवं छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि छात्रों के पठन-पाठन की प्रक्रिया आधुनिक तरीके से संचालित करने एवं मरीजों को आधुनिक तरीके से इलाज प्रदान करने हेतु संस्थान प्रतिबद्ध है। चड्ढा ने विश्वास व्यक्त किया कि इससे छात्रों को भविष्य में काफी फायदा होगा तथा उन्हें मरीजों के इलाज करने में काफी आसानी होगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*